वायरल पर्चा बिगाड़ सकता है बरैया का खेल

0
453

भोपाल। बहुजन समाज पार्टी से विधायक रह चुके कांग्रेस नेता फूल सिंह बरैया के खिलाफ सोशल मीडिया पर पर्चा वॉर चल रहा है। बरैया दतिया जिले की भांडेर विधानसभा से टिकिट की दावेदारी कर रहे है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस पर्चे में फूल सिंह बरैया के राजनीतिक इतिहास और चुनावी राजनीति के विषय में जानकारी दी गई है। यही नहीं उनके पास प्रदेश की राजधानी भोपाल में सरकारी बंगले की जानाकारी भी इस पर्चे में है। वही वायरल पर्चे में कांग्रेस नेता फूल सिंह बरैया को भारतीय जनता पार्टी की बी टीम भी बताया गया है।

सोशल मीडिया पर वायरल इस पर्चे में 1998 से 2018 तक लड़े विधानसभा चुनाव लड़ने और सभी चुनावों में हारने के साथ ही कई चुनावों में जमानत जब्त होना बताया गया है। यही नहीं बरैया के 2004 से 2009 तक लोकसभा चुनाव लड़ने और जमानत जब्त करवाने की बात लिखी है। देखिए क्या लिखा है वायरल पर्चे में…

फूल सिंह बरैया का चुनावी विवरण

(1) 1998 में विधानसभा भाण्डेर (बहुजन समाज पार्टी) प्रत्याशी सन् 2003 में दो विधानसभाओं से चुनाव लड़े और जमानत जप्त करा बैठे:-

(2) 2003 में विधानसभा भाण्डेर (समता समाज पार्टी) वोट 15188

(3) 2003 में विधानसभा सेंवढ़ा से (समता समाज पार्टी) वोट 7000 सन् 2008 में दो विधानसभाओं से चुनाव लड़े और जमानत जप्त करा बैठे:-

(4) 2008 में विधानसभा डबरा से (लोकदल जनता पार्टी) वोट 9776

 (5) 2008 में विधानसभा भाण्डेर से (लोकदल जनता पार्टी) वोट 15363

सन् 2013 में दो विधानसभाओं से चुनाव लड़े और जमानत जप्त करा बैठे :-

(6) 2013 में विधानसभा भाण्डेर से (बहुजन संघर्ष दल) वोट 11713

(7) 2013 में विधानसभा गोहद से (बहुजन संघर्ष दल) वोट 10700

(8) 2018 में विधानसभा ग्वालियर ग्रामीण (बहुजन संघष दल) से 5713 वोट प्राप्त कर जमानत कर बैठे। लोकसभा चुनाव का विवरण-फूल सिंह बरैया

(9) 2004 में भिण्ड-दतिया से लोकसभा चुनाव समता समाज पार्टी से लड़े और जमानत जब्त करा बैठे।

(10) 2007 में ग्वालियर लोकसभा उपचुनाव में लोक जनशक्ति पार्टी से प्रत्याशी रहे और जमानत जब्त करा बैठे।

(11) 2009 में भिण्ड-दतिया से लोकसभा चुनाव बहुजन संघर्ष दल से चुनाव लड़े और जमानत जब्त करा बैठे।

नोट :

  1. 2003 से भोपाल पॉस इलाका 74 बंगला, बी-2 में बंगला ले रखा है। बी.जे.पी. की सरकार में कांग्रेस पार्टी के नेताओं द्वारा बंगले खाली कराये गये, उन सभी पर कार्यवाही हुई है। कांग्रेस पार्टी ने 2020 में इन्हें राज्यसभा का उम्मीदवार बनाया, फिर फूल सिंह बरैया भाण्डेर विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी बनाये गये इसके बावजूद भी भाजपा ने इनसे बंगला खाली नहीं करवाया गया।
  1. फूल सिंह बरैया 20 सालों से बी-बंगला, बी-2 का आनन्द प्राप्त कर रहे हैं। इससे यह स्पष्ट है कि इनकी भा.ज.पा. से मिलीभगत है और यह कांग्रेस पार्टी को गुमराह कर रहे हैं। ये भाजपा की B टीम बनकर म.प्र. में काम कर रहे हैं।

जबकि सोशल मीडिया पर वायरल इस पर्चे के बाद फूल सिंह बरैया के विधानसभा टिकिट की दावेदारी को भी धक्का लगा है। क्योंकि कांग्रेस नेताओं ने यह साफ किया है कि लगातार तीन बार चुनाव हारने वाले उम्मीदवार को पार्टी टिकिट नहीं देगी। वही पिछले दिनों दतिया विधायक व प्रदेश के गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा के खिलाफ की गई आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर भी क्षेत्र में आक्रोश है। जहाँ पिछड़ा वर्ग और ब्राह्मण समाज बरैया के खिलाफ है तो वही कांग्रेस से टिकिट के लिए आश्वस्त फूल सिंह बरैया ने पहले ही चुनावी तैयारियां शुरू कर दी है। सूत्रों की माने तो उन्होंने भांडेर और आसपास कई होटल और लॉज चुनाव लड़ने के लिए बुक कर दिए है ताकि क्षेत्र में उन्हें टिकिट मिलने की हवा बन सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here