सावधान! इंटरनेशनल चाइल्ड पॉर्नोग्राफी के तार भोपाल से जुड़े…

भोपाल: आपका बच्चा या परिवार का कोई सदस्य अगर सोशल मीडिया का बेतरतीब इस्तेमाल करता हो तो सावधान हो जाइए क्योंकी ये खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। सोशल मीडिया पर चल रहे कंटेंट में गिरावट तो आई ही है, अब इस पर पोर्न कंटेंट परोसने वाले गिरोह भी सक्रीय हो चुके हैं। भोपाल क्राइम ब्रांच को ऐसे ही इंटरनेशनल चाइल्ड पॉर्नोग्राफी गिरोह का पता चला है। पुलिस ने वाट्स एप से संचालित हो रहे गिरोह के एक सदस्य को गिरफ्तार किया है। गिरोह बांग्लादेश से संचालित हो रहा था। जिसमें 257 सदस्यों में 144 नंबर इंटनेशनल हैं जबकि 113 नंबर भारत के ही हैं।
एमपी क्राइम ब्रांच को वाट्सएप पर संचालित हो रहे चाइल्ड पॉर्नोग्राफी गिरोह की जानकारी मिली है। इस ग्रुप के एक सदस्य को गिरफ्तार भी किया गया है। आरोपी की पहचान इंद्रपुरी लेबर कॉलोनी के रहने वाले 21 वर्षीय संजय पॉल के रूप में हुई है। ग्रुप में कुल 257 मेंबर हैं, जिसमें 144 नंबर इंटरनेशनल हैं। युवक इस ग्रुप में एक लिंक के जरिए जुड़ा था, जिसमें चाइल्ड पोर्नोग्राफी की लगातार डिमांड की जाती थी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईटी एक्ट की धारा 67बी के तहत केस दर्ज किया है। प्रदेश का ये पहला मामला है जब चाइल्ड पोर्नोग्राफी पर लगाम लगाने की नियत से क्राइम ब्रांच ने कार्रवाई की है।
दरअसल एमपी पुलिस की वाट्सएप मॉनिटरिंग सेल लगातार संदिग्ध गतिविधियों से जुड़े ग्रुप्स पर नजर बनाए हुए थी। इस दौरान क्रेजी किड्स नाम के एक ग्रुप में लगातार बच्चों के अश्लील फोटो और वीडियो अपलोड किए जाने की जानकारी मिली थी। इस ग्रुप में इंद्रपुरी लेबर कॉलोनी का रहने वाला 21 वर्षीय संजय पॉल भी जुड़ा था। इसी आधार पर पुलिस ने संजय को हिरासत में लेकर उसका मोबाइल फोन चेक किया। आरोपी संजय के मोबाइल फोन में सैकड़ों ऐसे वीडियो और फोटो मिले हैं जो चाइल्ड पोर्नोग्राफी से जुड़े थे। मोबाइल फोन में और भी कई ग्रुप ऐसे मिले, जिनमें अश्लील कंटेंट अपलोड और शेयर किए जा रहे थे। पकड़ा गया आरोपी संजय गन्ने की चरखी चलाता है। क्रेजी किड्स नाम के इस ग्रुप का एडमिन बांग्लादेश का व्यक्ति है। ग्रुप में 144 इंटरनेशनल नंबर हैं, जबकि 113 भारतीय नंबर शामिल हैं। पुलिस के मुताबिक वो अब ये जांच कर रही है कि क्या ये युवक सिर्फ ग्रुप में जुडा था या इसने खुद भी कोई वीडियो बनाया है।
मामला इंटरनेशनल होने की वजह से आरोपी संजय के खिलाफ हुई कार्रवाई की जानकारी केंद्रीय गृहमंत्रालय को भेजी गई है। साथ ही चाइल्ड पॉर्नोग्राफी पर नकेल कसने के लिए भोपाल पुलिस इस तरह के वाट्सएप ग्रुप्स पर लगातार नजर रखी जा रही है।
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Follow by Email
Facebook
Facebook
Google+
Twitter
YouTube
YouTube