डॉ. नरोत्तम मिश्रा के प्रदेश अध्यक्ष बनने की खबरों के बीच वायरल हुआ एक फोटो !

भोपालः मध्यप्रदेश में नए बीजेपी के नए अध्यक्ष को लेकर चल रही अटकलों के बीच डॉ. नरोत्तम मिश्रा का एक फोटो वायरल हो रहा है. प्रदेश कार्यालय में हुई बैठक के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार तक परिवर्तन होने की बात कही है. वही कयास लगाए जा रहे है कि दिल्ली में होने वाली कोर कमेटी की बैठक के बाद डॉ. नरोत्तम मिश्रा की ताजपोशी का एलान हो जाएगा. जबकि सूत्रों की माने तो भले ही मध्यप्रदेश में बीजेपी की हालत खराब हो लेकिन पार्टी अगड़ी जाति के व्यक्ति को अध्यक्ष बनाने पर बहुत सोच समझकर फैसला करेगी. पार्टी सूत्रों से आ रही खबर के मुताबिक अगर ब्राह्मण नेता को अध्यक्ष बनाने की बात आई तो डॉ. नरोत्तम मिश्रा के अलावा विष्णुदत्त शर्मा, गोपाल भार्गव, प्रभात झा और संजय पाठक के नाम पर भी विचार किया जा सकता है.

वही डॉ. नरोत्तम मिश्रा को अध्यक्ष बनाए जाने पर पार्टी में आम सहमति नहीं बन रही जिसका कारण स्वमं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की नाराजगी के अलावा संघ के सामने खुलकर उनके नाम का विरोध करना बताया जा रहा है. जबकि पार्टी का एक धड़ा किसी दागी नेता को प्रदेश अध्यक्ष पद देने का विरोध कर रहे है. इन पार्टी नेताओं का कहना है कि सुप्रिम कोर्ट की उस टिप्पडी को याद किया जाए जिसमें  कोर्ट मे कहा था कि, ‘यह चिंता का विषय है कि दोषी करार दिया व्यक्ति खुद चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य है. ऐसा शख्स किसी राजनीतिक दल का प्रमुख है और वह चुनावों के लिए उम्मीदवारों का चयन कर रहा है. बहुत संभव है कि चुने हुए उम्मीदवारों में से कुछ जीतकर सरकार में भी शामिल हो जाएं।’ यह बात तब सामने आ रही है जब दिल्ली कोर्ट में डॉ.नरोत्तम मिश्रा पर पेड न्यूज़ मामले में सुनवाई चल रही है जिसमें उन्हें पॉच साल तक के लिए चुनाव लड़ने के लिए आयोग्य घोषित किया जा सकता है.

वही डॉ.नरोत्तम मिश्रा को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने की खबरों के बीच उनकी कुछ व्यक्तिगत फोटो वायरल हो रहे है. जिसमें वह आपत्तिजनक अवस्था में दिखाई दे रहे है. कुछ लोग इन तस्वीरों को उनके एक करीबी मीडिया साथी के द्वारा वायरल करने की बात कह रहे है तो वही कोई उनके विरोधियों की चाल बता रहे है. हालंकि एमपी हेडलाइन डॉट कॉम ऐसे किसी वायरल तस्वीर के सत्य होने की पुष्टी नहीं करता. फिर भी अगर डॉ. नरोत्तम मिश्रा को अध्यक्ष पद बनाया जाता है तो इन वायरल तस्वीरों से उनकी और पार्टी की छवि को झटका लग सकता है. जिसका आगामी विधानसभा चुनावों में पार्टी को खामियाजा भुगतना पड़ सकता है. पार्टी पहले ही मंत्री रामपाल के मामले में हासिए पर है वही अगर डॉ. नरोत्तम मिश्रा को प्रदेश की कमान सौंपी जाती है तो यह देखने वाली बात होगी कि प्रदेश बीजेपी का ऊँट किस करवट बैठेगा.

सूत्रों की माने तो डॉ. नरोत्तम मिश्रा के नाम पर सीएम के आलावा पार्टी के कई ब्राह्मण नेता भी नराज है जो यह नहीं चाहते कि नरोत्तम मिश्रा के अध्यक्ष बनने के बाद ब्राह्मणों की छवि खराब हो तो पार्टी को भी विधानसभा चुनाव में हार के रूप में इसका खामियाजा भुगतना पड़े.

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Facebook
Facebook
Google+
Twitter
YouTube