शिवराज के “माई के लाल” वाले बयान पर मंत्री का कटाक्ष, खुलकर आरक्षण के खिलाफ बोले

भोपाल: नरसिंहपुर में ब्राह्मण समागम में पहुंचे मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार में कैबिनेट मंत्री गोपाल भार्गव ने आरक्षण को लेकर बयान दिया है. उन्होंने कहा कि, ब्राह्मणों का समर्थन तो हर पार्टी चाहती है लेकिन ब्राह्मणों के लिए कोई कुछ देना नहीं चाहता. उन्होंने कहा कि, पहले उनके समाज के 128 सांसद हुआ करते थे. और एक चौथाई विधायक, कर्मचारी उनकी समाज के हुआ करते थे.

वहीं उन्होंने अरक्षण पर तंज कसते हुए कहा कि, अगर योग्यता को दरकिनार कर अयोग्य का चयन किया जाएगा, 90 प्रतिशत वालों को बैठा दिया जाएगा और 40 प्रतिशत वालों का चयन किया जाएगा तो आप समझ लीजिए क्या होगा ?.इससे हमारा देश पिछड़ जाएगा. यह ब्राह्मणों के साथ अन्याय और उनकी प्रतिभा के साथ मजाक है.साथ ही उन्होंने कहा कि, ईश्वर की व्यवस्था के साथ अन्याय हो रहा है.

इस ब्राम्हण सभा के कार्यक्रम में भाजपा और कांग्रेस के ब्राम्हण समाज के दिग्गज नेता मौजूद थे. हाल ही में SC-ST एक्ट में संशोधन के खिलाफ दलितों ने भारत बंद किया था. इस दौरान देश के कई इलाकों में भारी हिंसा देखने को मिली थी. इस फैसले के खिलाफ विपक्ष ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला भी बोला. तभी से भाजपा अपने दलित वोटरों को लुभाने का भरसक प्रयास कर रही है. इसी वजह से शिवराज सरकार में मंत्री गोपाल भार्गव के द्वारा दिया गया बयान पार्टी के लिए नई समस्या खड़ी कर सकता है.और दलितों के खिलाफ ये बयान माना जा रहा है.

हालाकि, प्रदेश सरकार में मंत्री गोपाल भार्गव ने अपने बयान पर सफाई दी है. और कहा कि उनके बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया जा रहा है. जबकि गोपाल भार्गव के इस बयान के बाद यह कहा जा रहा है कि गोपाल भार्गव ने आप्रत्यक्ष तौर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के उस बयान पर कटाक्ष किया है जिसमें शिवराज सिंह चौहान ने अजाक्स के मंच से आरक्षण के मुद्दे पर कहा था कि मेरे रहते कोई भी माई का लाल आरक्षण खत्म नहीं कर सकता.

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

mpheadline.com@gmail.com
http://www.facebook.com/mpheadline
SHARE