मंत्री विजय शाह ने किया “कलम” का अपमान

भोपालः हमेशा विवादों में रहने वाले मध्यप्रदेश के कैबिनेट मंत्री विजय शाह एक बार फिर विवादों में है. इस बार विजय शाह ने चित्रगुप्त महाराज का अपमान कर दिया. चित्रगुप्त समाज के लोगों ने इसे लेकर मंत्री विजय शाह को चेतावनी भी दे दी है कि अगर मंत्री ने सार्वजनिक तौर पर माफी नहीं मांगी तो उनके बंगले का घेराव कर आंदोलन किया जाएगा. दरअासल मामला सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक फोटो का है जिसमें विजय शाह अपने पैर में कलम दबाकर बैठे है, चूँकि कलम चित्रगुप्त समाज (कायस्त समाज) के लिए भगवान के समान है जिसको लेकर आक्रोश का महौल है. वही कलम के अपमान को लेकर पत्रकारिता जगत ने भी मंत्री विजय शाह की खूब आलोचना हो रही है क्योंकि कलम ही हर पत्रकार की रोजी रोटी और उसका अभिमान होती है. जबकि कलम को पैरों में दबाए बैठे विजय शाह का फोटो वायरल होने के बाद से विद्यार्थीयों में भी इसके खिलाफ अावाज उठाना शुरू कर दी है. माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के छात्रनेता सुह्रद तिवारी ने मंत्री को चेतावनी दी है कि वह चित्रगुप्त समाज के अलावा विद्यार्थीयों और पूरे पत्रकार जगत से भी माँफी मांगे नहीं तो उन्हें काले झंडे दिखाए जाएगें. आपको बता दे कि मंत्री विजय शाह प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री है. इससे पहले वह सार्वजनिक मंच से सुभाष चंद बोस के नारे “तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा” को लोकमान्य तिलक का नारा बता दिया था. जिसके बाद भी विजय शाह को काफी शर्मिंगी झेलनी पडी थी. वही पैर में कलम दबाए बैठे मंत्री जी की फोटो वायरल होने के बाद चारों तरफ उनकी आलोचना हो रही है और उन्हें चेतावनी दी जा रही है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: