जेपी ग्रुप ने अगले साल रेस कराने की इच्छा जाहिर की

Formula 1 635207-03-2014-09-46-99Nनई दिल्ली: भारत में फार्मूला वन इंडियन ग्रां प्री के प्रमोटर-जेपी समूह ने अगले साल रेस कराने की इच्छा जाहिर की है लेकिन एफ-1 प्रमुख बर्नी एसेलेस्टन इसे 2016 में करने पर अड़े हुए हैं.एसेलेस्टन द्वारा यह कहे जाने के एक दिन बाद कि 2015 का इंडियन ग्रां प्री आयोजित नहीं होगा, जेपी स्पोट्र्स इंटरनेशनल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी समीर गौर ने कहा कि वे चाहते हैं कि ग्रेटर नोएडा के बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में तय कार्यक्रम के मुताबिक रेस आयोजित की जाए.गौर ने कहा कि 2015 में एकराय होकर 2015 के लिए भारत में रेस कराने हेतु एसेलेस्टन के साथ आमने-सामने की बातचीत चाहते हैं.गौर ने कहा, “मैंने इंडियन ग्रां प्री को लेकर मीडिया रिपोर्ट नहीं पढ़ी है. मैं जल्द ही बर्नी से बात करना चाहता हूं क्योंकि मैं उनसे रेस के लिए तारीख चाहता हूं. मैं तो चाहता हं कि अगले साल ग्रेटर नोएडा में रेस हो लेकिन देखते हैं कि बर्नी से मेरी बातचीत का क्या नतीजा निकलता है”गौर ने कहा कि भारत में एफ-1 का भविष्य उज्जवल है और यह कम से कम पांच साल तो आयोजित होगी ही. गौर ने कहा कि यह अलग बात है कि कूटनीतिक और कर सम्बंधी परेशानियों के कारण शेयरधारक परेशान हैं.भारत में इंडियन ग्रां प्री का पहली बार आयोजन 2011 में किया गया था, लेकिन 2014 में इसे नहीं कराने का फैसला किया गया. तीन साल तक ग्रेटर नोएडा में इंडियन ग्रां प्री रेस का सफल आयोजन हुआ.वर्ष 2014 में होने वाली रेस को रद्द करते हुए एसेलेस्टन ने कहा था कि वह 2015 में इस रेस को भारत में फिर से कराएंगे और यह एशियाई चरण के तहत वर्ष के मध्य में आयोजित होगी.लेकिन बुधवार को एसेलेस्टन ने इंग्लिश मीडिया से कहा कि भारत में अब रेस का आयोजन 2016 में ही हो सकेगा. इसी साल अजरबेजान में पहली बार एफ-1 रेस का आयोजन किया जाएगा.

Please follow and like us:

One Response so far.

  1. Esther says:

    Être contre le mariage homosexuel fait partie de la liberté d&qeeuo;rxprsssion et de la liberté de conscience- L’homophobie est un délit punit par la loi- Accuser une personne d’être homophobe juste parce qu’elle est opposée au mariage homosexuel revient à l’accuser publiquement d’un délit qu’elle n’a pas commis : ça s’appelle de la diffamation, c’est un délit, et c’est punit par la loi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

mpheadline.com@gmail.com
http://www.facebook.com/mpheadline
SHARE